Khulasa-news


आशीष नेहरा ने कहा- आईपीएल धोनी के लिए सेलेक्शन ट्रायल नहीं, इस टूर्नामेंट से माही को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला

स्पोर्ट्स 

पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) महेंद्र सिंह धोनी के लिए सेलेक्शन ट्रायल नहीं है। इस टूर्नामेंट से धोनी को कोई खास फर्क नहीं पडे़गा। उनके कद या ख्याति में कोई अंतर नहीं आएगा।

धोनी ने पिछला मैच 10 जुलाई को वनडे वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। अब वे 14 महीने बाद आईपीएल से वापसी करने वाले हैं। धोनी चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान हैं। आईपीएल 19 सितंबर से 8 नवंबर तक यूएई में होगा।

‘धोनी के खेल में कोई कमी नहीं आई’
नेहरा ने स्टार स्पोर्ट्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड में कहा, ‘‘मैं मानता हूं कि धोनी के खेल कोई कमी नहीं आई है। वह जानता है कि टीम की अगुआई कैसे की जाती है और युवाओं को आगे कैसे बढ़ाया जाए। इन चीजों को मुझे बार-बार दोहराने की जरूरत नहीं है, लेकिन मुझे नहीं लगता कि इस आईपीएल से बतौर खिलाड़ी धोनी के कद या उनकी ख्याति पर कोई फर्क पड़ेगा। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि आईपीएल जैसा टूर्नामेंट धोनी के सेलेक्शन का ट्रायल होना चाहिए, यह सिर्फ बात करने का मुद्दा है। ’’ नेहरा ने कहा कि धोनी किसी के लिए भी कप्तान के तौर पर पहली पसंद बने रहेंगे, यदि वह खेल रहे हैं तो।’’

धोनी सिर्फ दोस्त ही नहीं, बल्कि गाइड और मेंटॉर भी: रैना
सुरेश रैना का एक वीडियो मैसेज चेन्नई सुपर किंग्स ने ट्विटर पर शेयर किया। इसमें रैना ने कहा, ‘‘इतनी खूबसूरत यादों को आपने हमारे लिए बनाया, इसके लिए चेन्नई टीम को शुक्रिया। धोनी भाई मेरे सिर्फ दोस्त ही नहीं, बल्कि गाइड, मेंटॉर और हमेशा मुश्किल वक्त में साथ देने वाले भी हैं। थैंक यू माही भाई। हैपी फ्रेंडशिप डे। जल्द मिलते हैं।’’

धोनी के इंटरनेशनल करियर का आईपीएल से कोई लेना-देना नहीं: नेहरा
नेहरा ने कहा, ‘‘जहां तक धोनी के इंटरनेशनल करियर का सवाल है तो मुझे नहीं लगता कि इस आईपीएल का इससे कुछ लेना देना है। अगर आप चयनकर्ता, कप्तान या कोच हैं और धोनी खेलने के लिए तैयार हैं तो वे मेरी लिस्ट में पहले खिलाड़ी होंगे।’’

आईपीएल में प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करना होगा
उन्होंने कहा कि आईपीएल में खिलाड़ियों को प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करना होगा, ताकि पिछले महीने हुई इंग्लैंड-वेस्टइंडीज सीरीज के दौरान जोफ्रा आर्चर से जो गलती हुई वह टूर्नामेंट में न हो सके। आर्चर पहले टेस्ट के बाद बायो-सिक्योर प्रोटोकॉल तोड़ते हुए घर चले गए थे। इसके बाद उन्हें दूसरे टेस्ट से हटा दिया गया था।

इंग्लैंड-वेस्टइंडीज सीरीज से ज्यादा चुनौती आईपीएल में होगी
नेहरा ने कहा कि आईपीएल में 8 टीमें हैं। ऐसे में उन्हें संभालना बड़ी चुनौती होगी। इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच हुई सीरीज में हम लोगों ने जोफ्रा आर्चरी की घटना को देखा है। वहां पर सिर्फ दो ही टीमें थे। ऐसी घटना न हो, इसलिए सभी को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड का समर्थन करना होगा। हालांकि एक अच्छी बात है कि किसी भी स्टेडियम में जाने के लिए हवाई यात्रा नहीं करना पड़ेगा। बल्कि एक ही होटल में रहकर सभी लोग स्टेडियम तक बस से जा सकेंगे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Related posts