Khulasa-news


इंग्लैंड में बेकाबू हुआ कोरोना, फिर लागू करना पड़ा लॉकडाउन

दुनिया 

लंदन: पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है. इंग्लैंड में भी कोरोना के मरीजों की तादाद लगातार बढ़ रही है. इसके मद्देनज़र इंग्लैंड के ईस्ट मिडलैंड एरिया लीसेस्टर में दोबारा लॉकडाउन लागू कर दिया गया है. लीसेस्टर में भारी तादाद में भारतीय मूल के लोग रहते हैं और यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही थी. लीसेस्टर में अनावश्यक सामान की दुकानें 15 जून को खोली गई थीं और अब मंगलवार से ये बंद हो जाएंगी. स्कूल को भी चुनिंदा क्लासेज़ के लिए 1 जून से शुरू किया गया था और अब नए आदेश के बाद गुरुवार से स्कूल से भी बंद हो जाएंगे.

वहीं, 4 जुलाई से पूरे इंग्लैंड में पब, रेस्त्रां, लीज़र सेंटर, सिनेमा, धार्मिक स्थल खुलने वाले थे, किन्तु लीसेस्टर में अब ये बंद रहेंगे. जबतक बहुत जरुरी न हो शहर से बाहर जाने पर भी रोक लगा दी गई है और लोगों को घरों में ही रहने की हिदायत दी जा रही है. हाउस ऑफ कॉमन में स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक ने बताया है कि, 'हम लीसेस्टर में लोगों को घर में रहने की सलाह दे रहे हैं. हम लीसेस्टर के अंदर और बाहर सभी आवश्यक यात्रा के खिलाफ हैं.'

हैनकॉक ने बताया कि लीसेस्टर में देश के कुल मरीजों के 10 प्रतिशत लोग संक्रमित हैं और हम लॉकडाउन की अगले दो सप्ताह तक समीक्षा करेंगे. हम लॉकडाउन काफी समय तक लागू नहीं रखेंगे, जब तक कि इसकी जरुरत न हो. लीसेस्टर में कई युवाओं को भी कोरोना वायरस संक्रमित पाया गया है. चिंताजनक ये है कि संक्रमित पाए गए युवाओं में कोरोना का कोई लक्षण भी नहीं था. ऐसे में युवाओं से वृद्धों में कोरोना वायरस संचारित हो जाता है जो कि उनके लिए जानलेवा भी साबित हो सकता है। 

क्या ख़त्म हो गया कोरोना का कहर ? WHO बोला- अभी और बुरा समय आना बाकी

इस दिन हुई थी सबसे बड़ी एस्‍टेरॉयड टकराने की घटना

स्टुअर्ट ब्रॉड का बड़ा बयान- 'स्टोक्स के पास क्रिकेट की बेहतर समझ…'

Related posts