Khulasa-news


उत्तर प्रदेश: त्यौहार के अवसर पर घुला मिलावट का जहर

खबरें 

आगरा: अभी देश में त्योहारों का समय चल रहा है. वही इस बीच आगरा में त्योहार के अवसर पर मिलावटखोर सक्रिय हो गए हैं. दूध, घी, तेल सहित कई खाद्य सामग्रियों में मिलावट पाई जा रही है. हालत यह कि जांच में हर दूसरा सैंपल फेल हो रहा है. खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन ने पिछले वर्ष 738 सैंपलों में से 361 सैंपल फेल पाए गए. इनमें 47 सैंपल नकली पाए गए.

फ़ूड सेफ्टी एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन की जांच में सबसे अधिक दूध और इससे निर्मित सामग्री के सैंपल फेल मिले. 2019-20 में दूध प्रोडक्ट के 166 में से 73 सैंपलों में मिलावट पाई गई. इसमें दूध सिंथेटिक और घी नकली मिला. वही सुपारी-पान मसाला, नमक, चाय की पत्ती, पानी, ब्रेड, बेकरी प्रोडक्ट सहित 54 सामग्रियों के सैंपल फेल मिले. सब्जी पर रंग और फलों पर मोम लगा पाया गया. 

साथ ही इस वर्ष भी 235 में से 140 से ज्यादा सैंपल फेल मिले हैं. इसमें भी दूध, पनीर, घी, नमकीन, तेल, रिफाइंड समेत अन्य सामग्री हैं. वही 738 सैंपलों की मिली रिपोर्ट, 361 सैंपल कुल हुए फेल, 298 नमूनों में मिलावट, 47 नमूने नकली, 16 मिस ब्रांड पाए गए. इसमें दूध के 73, खोआ के 16, पनीर के 16, घी के 8, सरसों के तेल के 33, रिफाइंड ऑयल के 15, मसालों के 15, दालों के 8, मिठाई के 22 और नमकीन के 26 सैंपल फेल हुए. वही इस तरह के मामले स्थिति को अधिक संकट में डालने का काम कर रहे है, जरुरी है की इन पर ध्यान दिया जाए.

भूमि पूजन में दलित महामंडलेश्वर को नहीं बुलाए जाने पर भड़का अखाडा परिषद्, दी कार्रवाई की धमकी

सीएम गहलोत की PM से अपील, कहा- राजस्थान में चल रहे तमाशे को बंद करवाएं पीएम मोदी

नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप बोले, भारत-चीन विवाद का व्यापक असर पड़ेगा

 

Related posts