Khulasa-news


डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज होंगी सात बड़ी फिल्में, सुशांत की मौत के बाद के हालात को देखते हुए बदला गया सभी का शेड्यूल

एंटरटेनमेंट 

हाल ही में एक प्रमुख ओटीटी प्लेटफॉर्म ने सात बड़ी फिल्मों की डिजिटल रिलीज करने की घोषणा की थी। बताया जा रहा है कि इन फिल्मों की रिलीज डेट में सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद काफी फेरबदल किया गया है और कंपनी बदले हालात में अपने सब्सक्राइबर्स बढ़ाने के लिएपूरी तरह तैयार है।

डिजिटली रिलीज होने वाली ये फिल्मेंअक्षय कुमार की 'लक्ष्मी बम', अजय देवगन की 'भुज', आलिया भट्ट की 'सड़क-2', सुशांत सिंह राजपूत की 'दिल बेचारा', कुणाल खेमू की 'लूटकेस', विद्युत जामवाल की 'खुदा हाफिज' और अभिषेक बच्चन की 'द बिग बुल' हैं। ट्रेड पंडितों का कहना है कि सभी सातों फिल्मों की डील 1 जून तक हो चुकी थी।

पहले तय कार्यक्रम के मुताबिक 24 जुलाई से फिल्मों की रिलीज का सिलसिला शुरू करना है। उसके तहत सबसे पहली फिल्म 'लूटकेस' लॉक की गई थी। उसके बाद बकरीद पर 'खुदा हाफिज' और फिर 7 अगस्त को 'दिल बेचारा' व बाकी फिल्मों का सिलसिला चलने वाला था। इंडिपेंडेंस डे को अक्षय कुमार की फिल्म को स्ट्रीम करने की योजना थी।

इसी बीच 14 जून को सुशांत सिंह राजपूत का देहांत हो गया, जिसके 6 दिन बाद यानी 20 जून को हुई बैठक में तय किया गया कि सबसे पहले उन्हीं की फिल्म 'दिल बेचारा' को रिलीज किया जाएगा। क्योंकि उनकी मौत के बाद उनके प्रति फैंस की भावनाएं एक अलग ऊंचाइयों को छू रही थीं। जिससे फिल्म को लेकर जबरदस्त माहौल बन गया था।

डिजिटल प्लेटफॉर्म के अधिकारियों की सोच गलत नहीं थी, क्योंकि 'दिल बेचारा' के ट्रेलर ने रिलीज होते ही यूट्यूब पर सबसे ज्यादा लाइक्स पाने का हॉलीवुड फिल्म 'अवेंजर्स' का रिकॉर्ड तोड़ दिया। ओटीटी प्लेटफॉर्म डिज्नी प्लस हॉटस्टार के अधिकारियों को उम्मीद है कि सुशांत की इस फिल्म के चलते 10 लाख नए सब्सक्राइबर उनके ऐप के साथ जुड़ सकते हैं। इससे उनके सब्सक्राइबर बेस में खासा इजाफा हो जाएगा।

बदली प्लानिंग के अनुसार 'दिल बेचारा' के एक हफ्ते बाद यानी 31 जुलाई को कुणाल खेमू की फिल्म 'लूटकेस' आएगी। इसकी वजह यह है कि फिल्म का ट्रेलर आने के बाद रिसर्च कंपनी औरमैक्स ने कहा था कि इस फिल्म को यंग ऑडियंस वैसा ही प्यार दे सकती है, जैसा उन्होंने 'गो गोवा गॉन' को दिया था। लिहाजा, डिज्नी प्लस हॉटस्टार इस फिल्म को लेकर एक्साइटेड है।

'लूटकेस' की वजह से विद्युत जामवाल की फिल्म 'खुदा हाफिज' को एक हफ्ते आगे खिसकाना पड़ा और वो अब 7 अगस्त को आ सकती है। इस बात की घोषणा अगले एक-दो दिनों में की जाएगी।

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आमतौर पर अक्षय कुमार की फिल्में सिनेमाघरों में रिलीज होती थीं और ऐसा ही कुछ डिजिटल प्लेटफॉर्म पर भी होना था, मगर ऐन मौके पर यहां एक रणनीतिक बदलाव किया गया है। प्लेटफार्म से जुड़े अधिकारियों ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि 'लक्ष्मी बम' और 'भुज' जैसी फिल्मों के लिए प्लेटफार्म थोड़ा वक्त ले सकता है और ऐसे में उन्हें सितंबर महीने में रिलीज किया जाएगा।

अधिकारियों के मुताबिक 7 अगस्त को 'खुदा हाफिज' के स्ट्रीम होने के बाद उन्हें थोड़ा गैप मिल जाएगा और यह पता भी लग जाएगा कि इन फिल्मों को कितनी ऑडियंस मिली हैं। लोग इस न्यू नॉर्मल को कितना एडेप्ट कर चुके हैं। इन दोनों फिल्मों को ज्यादा से ज्यादा लोग देख सकें। इन दोनों फिल्मों के लिए भी नए सब्सक्राइबर इस ऐप को डाउनलोड कर सकें। इसके लिए इंतजार करवाया जाए।

'लक्ष्मी बम' और 'भुज' के अलावा 'सड़क-2' और 'द बिग बुल' की रिलीज डेट भी अभी बतानी मुश्किल है, क्योंकि इन दोनों फिल्मों के पोस्ट प्रोडक्शन का थोड़ा काम अभी बाकी है। पूरे घटनाक्रम को देखने के बाद लग रहा है कि कंपनी ये सारा बदलाव सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद उपजी स्थितियों का फायदा उठाने के लिए कर रही है। हालांकि जब इस सवाल को लेकर दैनिक भास्कर ने हॉटस्टार की टीम को संपर्क किया। तो उन्होंने इसका जवाब देने के लिए वक्त मांगा। खबर लिखे जाने तक उन जवाबों का इंतजार जारी था।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Related posts