Khulasa-news


पक्षपात और भाई-भतीजावाद को लेकर अब रैपर रफ्तार ने तोड़ी चुप्पी

एंटरटेनमेंट 

बॉलीवुड के बहुत ही मशहूर रैपर रफ्तार को आज के समय में हर कोई प्यार देता है. उनके गाने सभी के दिलों में बसे हुए हैं और लोग उन्हें खूब पसंद करते हैं. ऐसे में रफ्तार ने हाल ही में नेपोटिज्म के बारे में बात की है. जी दरअसल उनका मानना है कि, 'पैसे और शारीरिक शक्ति की ताकत उन लोगों को डराने के लिए काफी है जो म्यूजिक बिजनेस में नए आए हैं.'

हाल ही में उन्होंने एक वेबसाइट से बातचीत में कहा कि, 'याद रखें कि सच्ची शक्ति प्रशंसकों के हाथों में होती है. शरीर और धन की शक्ति किसी ऐसे व्यक्ति को डराने के लिए अच्छा तरीका हो सकती हैं, जो म्यूजिक इण्डस्ट्री में नया है लेकिन असली प्रतिभा हमेशा चमकती रहेगी.' इसी के साथ उन्होंने आगे यह भी कहा कि, 'हमें इस पूरे इनसाइडर-आउटसाइडर बहस को रोकने की जरूरत है. हमें असली प्रतिभा को तलाशने की और उसे मौका देने की जरूर है फिर चाहे वह इनसाइडर हो या आउटसाइडर. हां, पश्चिम दुनिया के विपरीत भारत में पक्षपात और भाई-भतीजावाद है और हमें इसे जड़ से मिटाना होगा.'

आप सभी ने अब तक रफ़्तार के गाने 'ऑल ब्लैक', 'स्वैग मेरा देसी' और 'तो ढिशूम' सुने होंगे जो बेहतरीन रहे हैं. हाल ही में उन्होंने बातचीत में कहा, 'जिस दिन हम कलाकारों को उनके सोशल मीडिया स्टेटस या उन्हें मिले बड़े अवॉर्डस या प्रोजेक्ट के आधार पर जज करना छोड़ देंगे उस दिन पक्षपात का यह पूरा सिस्टम खत्म हो जाएगा. कलाकारों की यह पीढ़ी अपनी क्षमता, अधिकार और व्यावसायिक मूल्यों को लेकर समझदार है. इसीलिए भाई-भतीजावाद और पक्षपात के पूरे आंदोलन को दर्शक मिल गए हैं, वरना पहले ये चीजें लोगों को पता ही नहीं चलती थीं.' वैसे रफ़्तार अपने रैप के लिए सुर्ख़ियों में रहते हैं और हर कोई उनका दीवाना है. इसके अलावा अब के बारे में बात करें तो इन दिनों रफ्तार को 'एमटीवी रोडीज रिवॉल्यूशन' में पसंद किया जा रहा है.

अमिताभ की सलामती के लिए जमकर हो रही है पूजा अर्चना

आखिर क्यों देशभर में अमिताभ के लिए हो रही मंदिरों में पूजा, जानिए ख़ास वजह ?

इस मशहूर एक्ट्रेस को हुआ कोरोना, लिखा दिल छू लेने वाला पोस्ट

Related posts