Khulasa-news


ट्विटर छोड़ने पर अनुराग कश्‍यप की हुई आलोचना

anurag kashyap-minएंटरटेनमेंट खबरें सभी 

फिल्ममेकर अनुराग कश्यप ने ट्विटर छोड़ने की घोषणा की है। अपने पैरेंट्स को आ रहे अनजान फोन कॉल्स और बेटी को मिल रही धमकियों के कारण अनुराग ने ऐसा करने का फैसला किया। केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के सदस्यों में शामिल अशोक पंडित और विवेक अग्निहोत्री ने इसके लिए उनकी आलोचना की है।

बॉम्‍बे वेलवेट डिजास्टर

सीबीएफसी मेंबर अशोक पंडित ने कहा है कि अनुराग कश्‍यप इससे पहले भी ट्विटर छोड़ चुके हैं, जब उनकी फिल्‍म बॉम्‍बे वेलवेट डिजास्टर साबित हुई और उन्‍हें बेकार फिल्‍ममेकर बताया गया था। अब उनके झूठ का पर्दाफाश हो गया है। अगली फिल्‍म के रिलीज होने से पहले वो फिर वापस आएंगे। अर्बन नक्‍सल इस तरह खबरों में रहते हैं।

राजनीतिक मुद्दों पर क्यों बोलते हैं

वहीं विवेक अग्निहोत्री ने लिखा कि कॉमरेड! हिम्मत नहीं है, तो बेकार में राजनीतिक मुद्दों पर क्यों बोलते हैं? झूठी चिट्ठियां लिखोगे तो लोग ऊंगली उठाएंगे ही और मैदान छोड़ के भागना था तो झूठी चिट्ठी लिखी ही क्यों? क्या अल्पसंख्यकों के लिए सहानुभूति गायब हो गई है? क्या इसी तरह से क्रांति लाई जाएगी?

‘ये बकवास है जब मुझ पर हमला किया गया तब आपने शांति के साथ इसे सेलिब्रेट किया। अब आप कुछ पागल ट्रोल्‍स का इस्‍तेमाल कर विक्‍टिम कार्ड खेल रहे हैं। कोई भी ऐसा सिलेब्रिटी नहीं है जो ट्रोल न हुआ हो या उसे धमकी न मिली हो। मेरा डीएम (डायरेक्‍टर मेसेज) चेक करिए। आपको अच्छा लगेगा। छोड़ने वाले कभी जीतते नहीं और जीतने वाले कभी छोड़ते नहीं।’

बेटी को ऑनलाइन धमकियां मिलने लगे

अनुराग कश्यप ने ट्वीट कर लिखा था कि जब आपके माता-पिता को फोन आने लग जाएं और आपकी बेटी को ऑनलाइन धमकियां मिलने लगे तो फिर कोई भी बात नहीं करना चाहेगा। कोई वजह या कोई भी तर्क नहीं बचेगा। दबंगों का राज होगा और दबंगई जीने का नया तरीका। सबको नया भारत मुबारक हो और आप इसमें रह सकें। आपको खुशियां और तरक्की मिले। ये मेरा आखिरी ट्वीट होगा क्योंकि मैं ट्विटर छोड़ रहा हूं। जब मैं बिना डर के बोल नहीं सकता तो मैं बोलूंगा ही नहीं। गुड बाय।

अधिक जानकारी के लिए खुलासा न्यूज पर करें क्लिक

Facebook Comments

Related posts