Khulasa-news


चिन्मयानंद मामले में सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए एसआईटी बनाने का दिया आदेश

chinmayanand-minउत्तर प्रदेश खबरें सभी 

सुप्रीम कोर्ट में सोमवार (2 सितंबर) को बीजेपी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद के मामले में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने़ उत्तर प्रदेश सरकार को आरोपों की जांच के लिए एसआईटी (स्‍पेशल इनवेस्टिगेशन टीम) गठित करने का आदेश दिया है।

सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय को निर्देश दिया कि वह छात्रा द्वारा दर्ज की गई शिकायत की जांच की निगरानी करे। सुप्रीम कोर्ट ने उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍य सचिव को आदेश दिया है कि अगले आदेश तक लड़की और उसके परिवार को सुरक्षा मुहैया कराए।

बता दें कि बीजेपी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर उनके कॉलेज की लॉ की एक छात्रा ने फेसबुक पोस्ट कर उन पर यौन शोषण का आरोप लगाया है।

वहीं इससे पहले शुक्रवार को यूपी पुलिस ने लापता एलएलएम छात्रा को राजस्थान से बरामद कर दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के सामने पेश किया था। उस दौरान छात्रा ने कहा था कि उसे उत्तर प्रदशे में डर लगता है। उसने साथ ही कहा था कि वह माता-पिता से मिले बगैर उत्तर प्रदेश नहीं जाएगी। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर दिल्ली पुलिस शाहजहांपुर आई थी, यहां से छात्रा के माता-पिता, भाई-बहन को लेकर दिल्ली चली गई थी।

आपको बता दें कि यह मामला उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर से जुड़ा है। शाहजहांपुर में चिन्मयानंद के एक डिग्री कॉलेज से एलएलएम(लॉ) कर रही एक छात्रा ने सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करके चिन्मयानंद पर जान से मारने की धमकी देने और इसके बाद बदहाली में जीने की बात कहते हुए सरकार से मदद मांगी थी।

इसे भी पढ़ें- चिन्मयानंद पर आरोप लगाने वाली लड़की को सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली लाने को कहा

फेसबुक पर 24 अगस्त को अपलोड एक वीडियो में छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद से उसे और उसके परिवार को जान का खतरा बताया था। इस केस में छात्रा के पिता की तहरीर पर स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ अपहरण और जान से मारने की धमकी मुकदमा दर्ज किया गया था।

अधिक जानकारी के लिए खुलासा न्यूज पर करें क्लिक

Related posts

2 Thoughts to “चिन्मयानंद मामले में सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए एसआईटी बनाने का दिया आदेश”

  1. […] दौर पिछले 1 हफ्ते से चल रहा है. जिसमें स्वामी चिन्मानंद के मुमुक्ष आश्रम और गेस्ट हाउस समेत […]

Comments are closed.