दुनिया की सबसे गहरी समद्री दिखा, प्रशांत महासागर क 11 किमी नीचे का हाल

sagarखबरें दुनिया सभी 

समुद्री किनारों पर मौजूद एक ऐसी सहत देखनें को मिली जिसे शायद पहले कभी नहीं देखा गया होगा. वही आपने समुद्र के किनारे प्लास्टिक का गंदा सामना खूब देख होगा. जोकि समुद्र के सतह तक पहुंच गया है. बता दें कि ये हाल किसी और समुद्र का नहीं है बल्कि प्रशांत महासागर का है. दुनिया का सबसे गहरे महासागर के नाम से प्रसिद्ध प्रशांत महासागर  की सबसे गहरी खाई मरिआना  में ही ये कचरा मिला.

सबसे गहरी सबमरिन डाइव का वर्ल्ड रिकॉर्ड

अमेरिका के गहरे समुद्र में खोजकर्ता विक्टर वेसकोवो ने हाल ही में अब तक की सबसे गहरी सबमरिन डाइव का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है. ये प्रशांत महासागर की सबसे गहरी खाई या स्थान जिसे मरिआना नाम दिया गया है. पर गए और वहां के वीडियो के जरिए सहत का हाल दिखाया.

महासागर की सतह पर बिताए 4 घंटे

1 मई को विक्टर वेसकोवो प्रशांत महासागर के नीचे 11 किलोमीटर पर मौजूद सतह पर गए. इन्होंने इस महासागर की सतह पर कुल 4 घंटे बिताए. विक्टर और उनकी टीम का मानना है कि उन्होंने और उनकी टीम में इस सतह पर कचरे के साथ-साथ झींगे की एक नई प्रजाति और हल्के रंगों का एक चट्टान भी खोज निकाली. ये चट्टान सूक्ष्म जीवों से बनी हुई थी.  इस सहत पर झींगे और चट्टान के अलावा टॉफी के पैकेट और प्लास्टिक बैग्स मिले.

बता दें, पृथ्वी की सतह का लगभग एक-तिहाई हिस्सा प्रशांत महासागर का है. प्रशांत महासागर की औसत गहराई लगभग 14,000 फुट है तथा अधिकतम गहराई लगभग 35,400 फुट है.

Facebook Comments

Related posts