Khulasa-news


ईरान में टूटने जा रही पुरानी परंपरा, महिलाएं अब स्टेडियम जाकर देखेंगी मैच

iran-minखबरें सभी स्पोर्ट्स 

फीफा से निलंबन की चेतावनी मिलने के बाद दशकों में पहली बार ईरान में महिला फुटबाल प्रेमी गुरूवार को खुलकर फुटबाल मैच देख सकेंगे। ईरान में महिलाओं को स्टेडियम में प्रवेश नहीं दिया जाता है। पिछले चालीस साल से मौलवियों का तर्क है कि उन्हें पुरूष प्रधान माहौल और अर्धनग्न पुरूषों को देखने से रोकना चाहिए।

बता दें कि फीफा ने पिछले महीने ईरान को निर्देश दिया कि स्टेडियमों में बिना किसी पाबंदी के महिलाओं को प्रवेश करने दिया जाए। यह निर्देश एक महिला प्रदशंसक की मौत के बाद आया जिसने लड़का बनकर मैच देखा और जेल होने के डर से खुद को आग लगा ली। कंबोडिया के खिलाफ गुरूवार को होने वाले विश्व कप 2022 क्वालीफायर मैच के टिकट महिलाओं ने धड़ाधड़ खरीदे। पहले बैच के टिकट एक घंटे से भी कम समय में बिक गए।

ईरान की महिला पत्रकार राहा पूरबख्श भी इन 3500 महिलाओं में से एक हैं, जिन्होंने मैच के लिए टिकट बुक किया। राहा ने कहा है कि मुझे अब भी यकीन नहीं हो रहा है कि ईरान में ऐसा हो रहा है। मैंने पिछले कई सालों तक इसके लिए काम किया और देश में हो रहे प्रदर्शनों को भी टीवी पर देखा। अब मैं इसका (मैच देखने की आजादी) अनुभव ले सकूंगी।

आपको बता दें कि ईरान की 29 साल की सहर खोडयारी फुटबॉल प्रशंसक थी। इसी साल मार्च में सहर लड़कों के कपड़े पहनकर तेहरान स्टेडियम में हो रहा फुटबॉल मैच देखने पहुंची थी। इसी दौरान उसे गिरफ्तार कर लिया गया था। इसके बाद कोर्ट ने सहर को 6 महीने की सजा सुनाई थी। पिछले महीने ही जेल जाने के डर से सहर ने खुद को आग लगाकर जान दे दी थी।

अधिक जानकारी के लिए खुलासा स्पोर्ट्स पर करें क्लिक

Related posts