आईपीएल: चेन्नई को चारों मुकाबलों में चित कर मुंबई ने जमाई धाक

ipl-minखबरें सभी स्पोर्ट्स 

मुंबई इंडियंस ने आईपीएल सीजन-12 के फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स को एक रन से मात देकर चौथी बार आईपीएल की ट्रॉफी पर कब्जा किया है। इसके साथ ही रोहित शर्मा की कप्तानी वाली इस टीम के नाम एक खास रिकॉर्ड जुड़ गया है।

आईपीएल

मुंबई इंडियंस आईपीएल के एक सीजन में किसी टीम के खिलाफ सबसे अधिक मैच जीतने वाली दूसरी टीम बनी है। मौजूदा सीजन में मुंबई ने फाइनल सहित चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ रिकॉर्ड 4 मैचों में जीत दर्ज की है। आईपीएल इतिहास में ऐसा दूसरी बार हुआ है। इससे पहले आईपीएल 2018 सीजन में चेन्नई ने फाइनल सहित सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 4 मैचों में जीत हासिल की थी।

चेन्नई सुपर किंग्स पर पड़ी भारी

इस सीजन में मुंबई इंडियंस की टीम चेन्नई सुपर किंग्स पर लगातार भारी पड़ी है। फाइनल मैच मिलाकर दोनों में चार बार मुकाबला हुआ हैं और हर बार मुंबई ने बाजी मारी और उनका स्कोर रहा 4-0।

3 अप्रैल (मुंबई) – चेन्नई सुपर किंग्स को मुंबई इंडियंस ने 37 रनों से मात दी।

26 अप्रैल (चेन्नई) – चेन्नई सुपर किंग्स को मुंबई इंडियंस ने 46 रनों से मात दी।

7 मई (चेन्नई) – चेन्नई सुपर किंग्स को मुंबई इंडियंस ने 6 विकेट से मात दी।

12 मई (हैदराबाद) – चेन्नई सुपर किंग्स को मुंबई इंडियंस ने 1 रन से मात दी।

आईपीएल इतिहास में सातवीं बार हुआ ऐसा

आईपीएल इतिहास में सातवीं बार ऐसा हुआ है। जब एक सीजन में दो टीमें चौथी बार एक-दूसरे से भिड़ गई हैं। आपको बता दें कि मुंबई इंडियंस ने रविवार को फाइनल में बाजी पलट दी। उसने चेन्नई सुपर किंग्स को आखिरी ओवर में एक रन से हरा आईपीएल के 12वें संस्करण का खिताब अपने नाम कर लिया है।

शेन वॉटसन के रन आउट होने से पलटी बाजी

चेन्नई के गेंदबाजों ने मुंबई को 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 149 रनों पर रोका था। चेन्नई के लिए आखिरी ओवर तक सब ठीक जा रहा था, लेकिन शेन वॉटसन (80) के रन आउट होने से बाजी एकदम पलट गई। आखिरी गेंद पर चेन्नई को जीत के लिए दो रन चाहिए थे। लसिथ मलिंगा ने इसी गेंद पर शार्दुल ठाकुर को आउट करा मुंबई के खाते में चौथा आईपीएल खिताब डाल दिया।

इसे भी पढ़ें- आईपीएल-12: मुंबई इंडियंस की टीम में मिल्ने की जगह शामिल हुए अल्जारी जोसेफ

वॉटसन को मैच में तीन जीवनदान

आपको बता दें कि चेन्नई 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 148 रन ही बना पाई। वॉटसन ने 59 गेंदों पर आठ चौके और चार छक्के जड़े। वॉटसन को इस मैच में तीन जीवनदान भी मिले, लेकिन वह फिर भी चेन्नई को जीत दिलाने में असफल रहे।

अधिक जानकारी के लिए खुलासा न्यूज पर करें क्लिक 

Facebook Comments

Related posts

Leave a Comment