शीशे के घर में रहने वाले दूसरों पर पत्थर नहीं फेंकते- रॉबर्ट वाड्रा

robetखबरें राजनीति सभी 

पीएम नरेंद्र मोदी के भाई प्रहलाद मोदी को पुलिस की ओर से एस्कार्ट मुहैया नहीं कराए जाने से नाराज होकर जयपुर के बगरू थाने के बाहर धरने पर बैठने की घटना के एक दिन बाद प्रियंका गांधी वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा ने फेसबुक के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखे प्रहार किये और तंज कसा कि जो लोग शीशे के घरों में रहते हैं वह दूसरों पर पत्थर नहीं फेंकते.

रॉबर्ट वाड्रा ने पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा कि जो लोग शीशे के घरों में रहते हैं वह दूसरों पर पत्थर नहीं फेंकते. यही बात हमारे प्रधानमंत्री पर भी लागू होनी चाहिए जो आए दिन दूसरों पर महत्वपूर्ण होने का तंज कसते रहते हैं. क्या यही अच्छे दिन हैं जो उनके भाई स्वयं अपने आप को एस्कॉर्ट गाड़ी दिलाने के लिए धरने पर बैठे हैं?

सरकार के फैसले को सम्मानपूर्वक माना

उन्होंने आगे कहा कि मेरी सुरक्षा आधी कर दी गई जबकि मुझे हर तरफ से खतरा बताया जाता था. मुझे वह समय भी याद है जब मेरी मां की सुरक्षा में दिए गए 2 सुरक्षाकर्मी भी बिल्कुल हटा लिए गए, जबकि उनके घर के बाहर लोगों का तांता लगा रहता है जो किसी न किसी कारणवश मिलना चाहते हैं. इसमें किसी भी प्रकार के लोग हो सकते हैं. लेकिन हमने सम्मानपूर्वक सरकार के इस फैसले को माना.

नामदार, कामदार पर उठाएं सवाल

रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि आज प्रधानमंत्री जी के भाई इस बात पर धरने पर बैठे हैं. उन्हें एस्कॉर्ट गाड़ी चाहिए. यह कितना उचित है? क्या यह नामदार है या कामदार? प्रधानमंत्री जी इन्हीं अच्छे दिनों की चर्चा किया करते थे? क्या आज प्रधानमंत्री जी नहीं कहेंगे बहुत हुआ?

1 घंटे में सभला मामला

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा ने फेसबुक के जरिए यह टिप्पणी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाई प्रहलाद मोदी के मंगलवार को पुलिस द्वारा एस्कार्ट मुहैया नहीं कराए जाने से नाराज होकर जयपुर के बगरू थाने के बाहर धरने पर बैठने की खबर आने के बाद की. हालांकि लगभग एक घंटे बाद समझाने बुझाने पर वह अपनी यात्रा पर आगे रवाना हो गए.

Facebook Comments

Related posts