Khulasa-news


रैली में शामिल होने के लिए घर से निकले नायडू, सरकार पर साधा निशाना

chandrababu naidu-minखबरें राजनीति सभी 

तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के प्रमुख एन. चंद्रबाबू नायडू अमरावती स्थित आवास से ‘चलो अथमाकुर’ रैली में शामिल होने के लिए निकले हैं। उन्होंने कहा है कि यह सरकार मानवाधिकारों और मौलिक अधिकारों का उल्लंघन कर रही है। मैं पुलिस को भी चेतावनी देता हूं। आप ऐसी राजनीति नहीं कर सकते हैं। आप हमें गिरफ्तार करके नियंत्रित नहीं कर सकते। जब भी वे मुझे अनुमति देते हैं, मैं ‘चलो अथमाकुर’ जारी रखूंगा।

बता दें कि इससे पहले एन. चंद्रबाबू नायडू और उनके बेटे नारा लोकेश को नजरबंद किया था। दरअसल आंध्र प्रदेश में टीडीपी नेता की हत्या के खिलाफ आज चंद्रबाबू नायडू प्रदर्शन करने वाले थे। पुलिस ने नायडू और उनके बेटे को घर से निकलने से रोक दिया और दोनों को हाउस अरेस्ट किया था।

इसके खिलाफ चंद्रबाबू नायडू ने अपने घर पर ही आज सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक भूख हड़ताल का ऐलान किया। इस ऐलान के बाद समर्थक नायडू के घर जा रहे थे, जिन्हें पुलिस ने रोक दिया और कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।

इससे पहले टीडीपी के महासचिव और एमएलसी नारा लोकेश जब अथमाकुर में हो रहे प्रदर्शन में शामिल होने जा रहे थे तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया। पुलिस ने इलाके में धारा 144 लागू की है। पार्टी के कई वरिष्ठ नेता जो अथमाकुर जा रहे थे, उन्हें भी हिरासत में लिया है।

पार्टी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू के अमरावती स्थित आवास की तरफ जा रहे नेताओं को भी पुलिस ने रोका है। पूर्व मंत्री पी पुल्ला राव, नक्का आनंद बाबू, अल्पपति राजा, सिद्ध राघव राव, देवीनेनी उमामहेश्वर राव, विधायक एम गिरि, जी राममोहन, पूर्व विधायक बोंडा उमा, एमएलसी वाईवीबी राजेंद्र प्रसाद, और तेलुगु युवता के अध्यक्ष देवीनेनी अविनाश को नजरबंद किया गया है।

अधिक जानकारी के लिए खुलासा राजनीति पर करें क्लिक

Related posts